Look Inside

नेम प्लेट: A Collection of Stories

$13.60
$17
(20% off)
Quantity
Ships in 1-3 days
Item Code: NZF112
Author: क्षमा शर्मा (Kshama Sharma)
Publisher: Rajkamal Prakashan Pvt. Ltd.
Language: Hindi
Edition: 2010
ISBN: 9788126719358
Pages: 163
Cover: Paperback
Other Details 8.5 inch X 5.5 inch
Weight 180 gm
लेखक परिचय

क्षमा शर्मा की 28 कहानियों का यह संग्रह स्त्री की दुनिया के जितने आयामो को खोलता है , उसके जितने संभवतम रूपों को दिखाता है, स्त्री के बारे में जितने मिथो और धारणाओं को तोड़ता है, ऐसा कम ही कहानीकारों के कहानी-संग्रह में देखने को मिलता है | क्षमा शर्मा हिंदी लेखको की आम आदत के विपरीत अपेक्ष्या छोटी कहानियाँ लिखती है जो अपने आप में सुखद है | उनकी लगभग हर कहानी स्त्री-पात्र के आसपास घूमती जरूर है मगर क्षमा शर्मा उस किस्म के स्त्रीवाद का शिकार नहीं है जिसमे स्त्री की समस्याओ के सारे हल सरलतापूर्वक पुरुष को गाली देकर ढूँढ लिए जाते है | इसका मतलब यह नहीं है की वह पुरुषो या पुरुष वर्चस्ववाद को बख्शती है, उसकी मलामत वे जरूर करती है और खूब करती है मगर उनकी तमाम कहानियों से यह स्पष्ट है की उनके एजेंडे में स्त्री की तकलीफे, उसके संघर्ष और हिम्मत से स्थितियों का मुकाबला करने की उसकी ताकत को उभारना ज्यादा महत्वपूर्ण है | वह इस मिथ को तोड़ती है की सौतेली माँ, असली माँ से हर हालत में कम होती है या एक विधुर बूढ़े के साथ एक युवा स्त्री के सम्बन्धो में वह प्यार और चिंता नहीं हो सकती, जो की सामान वय के पुरुष के साथ होती है | वह देह पर स्त्री के अधिकार की वकालत करती है और किसी विशेष परिस्थिति में उसे बेचकर कमाने के विरुद्ध कोई नैतिकवादी रवैया नहीं अपनाती |



Sample Pages







Add a review
Have A Question

For privacy concerns, please view our Privacy Policy